भव्य रहा शिवपुरी महाबीरी अखाडा का मेला Shivpuri Mahabiri Akhada Fair



गोपालगंज, ( संवाददाता )  शिवपुरी महाबीरी अखाडा का मेला भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच संपन्न हो गया । मेले में आये सैकड़ों व्यापारी भारी भीड़ के चलते ज्यादा बिक्री होने से बहुत प्रसन्न दिखाई दे रहे थे । वहीं दोनों गांवों के शौर्य प्रदर्शन देख लोग दंग रह गए ।  

फुलवरिया थाना के चमारीपट्टी पंचायत में शिवपुरी में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी भव्य व भरपूर मनोरंजन के साथ महाबीरी अखाडा मेला संपन्न हो गया । पिछले 15 वर्षो से यहां पंचायत के सवनहा गांव और पेनुला मिश्र गांव का महाबीरी अखाडा का मेला लगता आ रहा है। अखाडा में महाबीर जी का पहले दोनों गांवों में जुलूस निकालकर घर - घर पूजन होता है, साथ ही गांव के शौर्य का प्रदर्शन करते हुए जुलूस निकाला जाता है । दोनों गांवों का अखाडा शिवपुरी मंदिर के पास आता है, जहां बैंण्ड- बाजों, आर्केस्ट्रा के साथ दोनों अखाड़ों के युवक लाठी, बल्लम, भाले, तलवार आदि हथियारों से अपने शौर्य का प्रदर्शन करते हैं । 

सवनहा गांव का अखाडा आज दोपहर 12 बजे से शुरू होकर गांव से भारी जुलूस के रूप में निकाला गया । गांव के बुढ़े, बच्चे तथा जवान सभी अपने हाथों में हथियार लेकर जुलूस में महाबीर जी की जै, जय बजरंग बली के नारे लगाते हुए चल रहे थे । गांव के उत्तर के प्राईमरी पाठशाला के अखाडा स्थल से भूमि पूजन के साथ ही जुलूस निकलने की शुरूआत की गई । गांव से निकलने के साथ ही फुलवरियां थाना की पुलिस टीम भी जुलूस के साथ ही सुरक्षा व्यवस्था के लिए लग गई । यहां से जुलूस बैजलहां गांव, निर्जलहा गांव, ठाकुरगंज बाजार, रामसन पेनुला गांव से होते हुए शिवपुरी मंदिर पर जाकर मेला में मिल गया । हजारों के तादाद में लोग सड़क पर नारा लगाते चलते हुए हाथी, घोड़ों के साथ जुलूस की शोभा में चार चांद लगा रहे थे । मेला के बीच पटाखों के प्रदर्शन और युवकों के जोशिले करतब ने लोगों को दांतो तले अंगुली दबाने पर मजबूर कर दिया । 

इस मौके पर पंचायत के मुखिया अनील मिश्र ने दोनों अखाडों के लोगों के व्यवस्था की उचित प्रबंध किये थे । मेला के बीच में टेंट लगाकर क्षेत्र के सम्मानित लोगों के बैठने की व्यवस्था के साथ ही पानी और मेला का मीठा जलेबी का भी प्रबंध किये थे । पंचायत के सरपंच हीरालाल तिवारी सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी भली-भांति समंभालने में व्यस्थ देखें गए । पूर्व मुखिया मुन्नी जी तिवारी भी जुलूस के साथ ही मेला तक सुरक्षा एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए उत्सुक दिखे । इस मौके पर क्षेत्र के सम्मानित लोगों में ब्रजेश त्रिपाठी, अजय त्रिपाठी, श्रीकांत तिवारी, भोला तिवारी, उदयनारायण तिवारी, पप्पू तिवारी, सुमंत तिवारी, लखदेव तिवारी, मनोज तिवारी, वकिल तिवारी, गिरिश मिश्र, रमेश्वर मिश्र, ददन मिश्र, नरेश मिश्र, कैलाश पांडेय, मोहन लाल शर्मा, सुरेन्द्र मिश्र बागेश्वर तिवारी, रामबहादुर तिवारी, रमेश तिवारी, अरविंद तिवारी, कल्पनाथ तिवारी आदि लोग मोजुद थे ।  



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment