मुजफ्फरपुर: बच्चियों के साथ इतनी हैवानियत, सुनकर अधिकारी भी कांप गए- /police-officer-also-got-goose-bumped-after-listening-story-of-victim



मुजफ्फरपुर : बिहार के मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में बच्चियों से रेप के मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी भी बच्चियों की कहानी सुनकर कांप जा रहे हैं। इस मामले की तह तक पहुंचने वाली पुलिस अधिकारी ज्योति कुमारी हैरान हैं कि कोई कैसे इतना दरिंदा हो सकता है? ज्योति ने एनबीटी से बातचीत करते हुए कहा, 'बहुत बुरा अनुभव है। लड़कियों से बातचीत करते हुए लग रहा है कि कोई इतना हैवान कैसे हो सकता है? ऐसे केस मैंने बहुत कम देखे हैं।' क्या इस मामले में उनपर केस को प्रभावित करने का दबाव भी आया? इस सवाल के जवाब में ज्योति कुमारी ने कहा कि उनके सीनियर ने उन्हें निर्भीक जांच में पूरी तरह मदद की। इस बीच, मुजफ्फरपुर मामले पर आज बिहार में वामपंथी दलों ने बंद बुलाया है। बंद को आरजेडी और कांग्रेस ने भी अपना समर्थन दिया है। लेफ्ट पार्टियां बालिका गृह मामले में सीएम नीतीश कुमार से इस्तीफा की मांग कर रहे हैं। मालूम हो कि पुलिस ने 44 लड़कियों के बयान रेकॉर्ड किए थे। वहीं सूत्रों के अनुसार सीबीआई ने 2010 से लेकर 2018 के बीच ब्रजेश ठाकुर के एनजीओ और अखबार को मिले फंड की डीटेल राज्य सरकार से मांगी है। सूत्रों के अनुसार इसकी डीटेल आने के बाद सीबीआई उन अधिकारियों से भी पूछताछ कर सकती है जिन्होंने इस फंड को देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इसके अलावा बिहार सरकार ने ब्रजेश के मान्यता प्राप्त पत्रकार होने की सारी सुविधाएं खत्म कर दी हैं।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment