चुनावी नारों को हकीकत में बदलना आता है भाजपा को: अमित शाह Amit Shah: BJP comes to power in electoral slogans



जयपुर। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को कहा कि भाजपा तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपने चुनावी नारों को हकीकत में बदलना आता है। राजस्थान के नागौर जिले में एक किसान सभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा,‘‘भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी के नारे चुनावी नारे नहीं होते। हमें उन्हें हकीकत में बदलना आता है।’’ मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि 'कांग्रेस न तो किसान की और न ही देश की सुरक्षा कर सकती है। ‘जय जवान जय किसान’ के नारे को कांग्रेस लागू नहीं कर सकती।

राज्य तथा केंद्र की भाजपा सरकारों द्वारा कृषि क्षेत्र में किए गए कार्यों को रेखांकित करते हुए शाह ने किसानों से भाजपा को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुना करने का प्रयास केवल भाजपा कर सकती है। शाह ने कहा कि सत्ता में आने के बाद से ही नरेन्द्र मोदी की अगुआई वाली भाजपा सरकार ने किसानों के हितों के लिए काम किया है। उन्होंने इस संदर्भ में मृदा स्वास्थ्य कार्ड तथा रबी एवं खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी आदि का जिक्र किया।

उन्होंने कहा,‘‘किसानों के साथ खड़ा रहना भाजपा की आदत है। भाजपा सरकार किसानों के लिए समर्पित है और उसने उनके लिए काम किया है। हम 2022 तक किसानों की आय दोगुना करना चाहते हैं। केवल भाजपा ही यह कर सकती है।’’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें शक है कि वह (राहुल) जानते भी हैं कि रबी की फसल कब होती है खरीफ की फसल कब बोई जाती है।

शाह ने कहा,‘‘ जब सीमा पर हमारे जवानों के सिर काटे गए तो पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह चुप रहे लेकिन जब भाजपा सरकार के कार्यकाल में उरी हमला हुआ तो प्रधानमंत्री मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक का फैसला किया।’’ उन्होंने 2014 के आम चुनाव में राजस्थान में पार्टी को सभी 25 सीटें मिलने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा,‘‘ पूर्ण बहुमत देने का काम राजस्थान की जनता ने किया, अगर राजस्थान फैसला नहीं करता तो ढुलमुल सरकार बनती।’’ बैठक में केंद्रीय मंत्री सीआर चौधरी, राज्य के परिवहन मंत्री युनूस खान तथा पार्टी के अन्य नेता भी मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि शाह तीन दिन की राजस्थान यात्रा पर हैं।





Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment