डीएम ने नगर पालिका परिषद लोनी के फील्ड कार्यो का स्थलीय निरीक्षण किया DM has conducted terrestrial inspection of field operations of municipal council, Loni



गाजियाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )   रितु माहेश्वरी, जिलाधिकारी गाजियाबाद ने आज नगर पालिका लोनी के फील्ड कार्यो का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय रमेश रंजन, मुख्य विकास अधिकारी गाजियाबाद एवं सतेन्द्र कुमार, उप जिलाधिकारी लोनी भी उपस्थित रहें। 

सर्वप्रथम बंथला पुल से उतरते ही गाजियाबाद रोड पर राॅडव की पुलिया का मुआयना किया तथा पाया कि लोक निर्माण विभाग द्वारा उक्त मार्ग का चैडीकरण व सुदृढीकरण का कार्य कराया जा रहा है एवं सडक को दोनों ओर से खोदकर छोड दिया गया है, जिसमें वर्षा का पानी सडक के दोनों ओर भर गया है एवं मौके पर उपस्थित मजदूरांे द्वारा कोई सुरक्षा उपकरण नहीं पहने हुए थे। इसके अतिरिक्त उक्त कार्य बहुत ही धीमी गति से कराया जा रहा है। मौके पर उपस्थित लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियन्ता  शैलेश कुमार सारस्वत द्वारा इस सम्बन्ध में कोई संतोषजनक उत्तर नही दिया गया। निर्देशित किया गया कि पूर्ण सुरक्षा मानकों का प्रयोग करते हुए 15 दिन के अन्दर उक्त कार्य पूर्ण कराया जाये। अधिशासी अधिकारी लोनी को सडक चैडीकरण/सुदृढीकरण के कार्य के साथ-साथ नगर पालिका परिषद द्वारा सडक किनारे नाला निर्माण कार्य आरम्भ करने के निर्देश दिये। उप जिलाधिकारी लोनी को निर्देशित किया गया कि वे प्रत्येक सप्ताह स्थलीय निरीक्षण कर 15 दिन के अन्दर पूर्ण कराना सुनिश्चित करायें। 
इसके उपरान्त दिल्ली-सहारनपुर मार्ग का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के समय उपस्थित एन0एच0ए0आई0 के अधिकारी द्वारा बताया गया कि उक्त मार्ग पर लगभग 20 कि0मी0 पर पैच वर्क का कार्य कराया जाना है, जिसके लिए शासन से 6 करोड रूपये की धनराशि स्वीकृत की गयी है, जिसमें से अब तक लगभग 50-60 लाख रूपये का ही कार्य कराया गया है। वर्षा काल के कारण सडक निर्माण का कार्य रोका गया है। निर्देशित किया गया कि उपरोक्त कार्य एक सप्ताह के अन्दर पूर्ण करायें। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद लोनी को निर्देशित किया गया कि सडक के दोनों ओर मिट्टी डलवाकर उसपर रोलर चलवाकर उसे समतल बनायें। इसके अतिरिक्त भवन निर्माण कार्य सडक के किनारे खुले में जगह-जगह पाये जाने एवं अवैध अतिक्रमण पाये जाने पर अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद लोनी को निर्देश दिये गये कि वह स्थानीय पुलिस के साथ लगातार ड्राईव चलवाकर तत्काल अवैध अतिक्रमण को हटवायें तथा सडक के किनारें भवन निर्माण सामग्री पाये जाने पर समस्त सामग्री को सीज करवाते हुए सम्बन्धित पर नियमानुसार अर्थदण्ड लगाते हुए उसकी वसूली सुनिश्चित की जाये। 
इसके उपरान्त जिलाधिकारी द्वारा दिल्ली सहारनुपर रोड से डी-56 बलराम नगर तक (100 फुटा डामर रोड) नगर पालिका परिषद लोनी द्वारा निर्मित सडक का निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया कि उपरोक्त सडक का निर्माण कार्य 02 माह पूर्व शुरू हुआ है। मौके पर उपस्थित अवर अभियन्ता नगर पालिका परिषद लोनी  चन्द्रपाल मौर्या द्वारा बताया गया कि इस रोड पर तीन कोट पत्थर डाले जाने है, किन्तु वर्षा के कारण अभी तक कुल 2 कोट पत्थर ही डाले गये है। उक्त रोड का निर्माण कार्य 15 से 20 अक्तूबर, 2018 तक पूर्ण करा दिया जायेगा। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद द्वारा बताया गया कि नगर पालिका लोनी में लगभग 400 कार्य स्वीकृत है, जिसके सापेक्ष अभी तक कुल 11 कार्याे पर कार्य प्रगति पर है। इस पर जिलाधिकारी गाजियाबाद द्वारा निर्देशित किया गया कि वह प्राथमिकता वाले कार्यो को शीघ्र पूर्ण करवायें, उसके उपरान्त अन्य कार्य पूर्ण करायें।

जिलाधिकारी ने सीवर ट्रीटमेंट प्लांट का भी निरीक्षण किया। पाया कि सीवर ट्रीटमेंट प्लांट की साल में दो बार सफाई की जाती है। अधिशासी अभियन्ता जल निगम को निर्देश दिये गये कि सुरक्षा मानकों का पूर्ण पालन किया जाये एंव प्लांट के पास तत्काल एक बोर्ड लगवा दिया जाये, जिसपर सफाई हेतु अग्रिम तिथि एवं अन्य महत्वपूर्ण विवरण अंकित हो। अमृत योजना के अन्तर्गत नगर पालिका द्वारा घर-घर मंे पानी पहुॅचाया जाना था, परन्तु इस योजना का सही से क्रियान्वयन अभी तक नही किया गया है, जिस पर अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद लोनी को आवश्यक निर्देश दिये गये। इसके अतिरिक्त सीवर लाईने भी चैक बतायी गयी, जिन्हें तत्काल ठीक कराने के आदेश दिये गये।  
उपरोक्त निरीक्षण के दौरान कार्यो में लापरवाही एंव कोताही बरतने के आरोप में श्री शैलेन्द्र कुमार सारस्वत सहायक अभियन्ता, लो0नि0वि0 एवं श्री दिगम्बर सिंह भण्डारी फिटर, जलकल विभाग को प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदत्त की गयी एवं नगर पालिका परिषद लोनी के अवर अभियन्ता श्री पंकज गुप्ता व श्रीमती प्रीति अग्रवाल एवं श्री सी0पी0 मौर्या को कडी चेतावनी दी गयी। श्रीमती शालिनी गुप्ता, अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद लोनी को भविष्य के लिए सचेत किया गया कि वह पालिका क्षेत्र में कराये जा रहे कार्यों में तेजी लाएं, एवं स्वयं कार्यों का नियमित निरीक्षण करते हुए प्रगति से समय-समय पर जिलाधिकारी को अवगत कराना सुनिश्चित करें। 




Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment