फर्जी ड्रग इंसपेक्टर बन डॉक्टर को ठगने वाले चार गिरफ्तार Four suspects to be fake drug inspector



                                        फर्जी ड्रग इंसपैक्टर गिरफ्तार।  

साहिबाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  थाना साहिबाबाद की पुलिस ने राम पार्क कालोनी में रहने वाले एक डाक्टर को  डरा धमकाकर करीब पांच लाख की ठगी करने वाले चार लोगों को गिरफ्तार किया है। यह गिरफ्तारी फर्जी ड्रग इंस्पेक्टर बन कर 13 सितम्बर को की गयी थी। ठगी करने की योजना बनाने बाला डाक्टर का करीबी तथा पारिवारिक दोस्त था। इनसे ठगी की रकम पांच लाख में से दो लाख साठ हजार रूपये बरामद किये गये हैं।
          
सीओ चतुर्थ डॉ राकेश कुमार मिश्रा ने बताया कि राम पार्क कॉलोनी में डॉक्टर महानंद सिंह का घर है तथा वे यहीं अपना क्लीनिक चलाते हैं। उन्होंने अभी कुछ समय पहले 20लाख का एक प्लॉट बेचा था यह जामनारी उनके करीबी और पारविारिक मित्र रविंद्र उर्फ टिंकू पुत्र सुखबीर सिंह निवासी राजेन्द्र नगर इंडस्ट्रियल एरिया मोहननगर साहिबाबाद को थी। टिंकू के मन में लालच आगया और डाक्टर को ठगने की योजना बनाने के लिये उसने अपने साथी प्रीतम सिंह पुत्र श्री कुंदन लाल निवासी 79 राजेंद्र नगर सेक्टर 3 तथा कमल उर्फ भूरे पुत्र रूप कुमार तथा कपिल पुत्र वीर सिंह निवासीगण  18 ब्लॉक रामा ब्लाक भोलानाथ नगर शाहदरा की मदद ली। कमल की पहचान राजकुमार नाम के एक ड्रग इंस्पेक्टर से थी। उसने राजकुमार ठगने की योजना बतायी और उसे भी अपनी इस योजना में शामिल कर लिया। इन्हें यह मालुम था कि डाक्टर के पास चिकित्सा की कोई डिग्री नहीं है। इसकलिये उससे मोटी कमाई हो सकती है। 13 सितंबर को ठगों ने डॉक्टर महनंद सिंह को डराया धमकाया तथा उसे जेल भिजवादने की धमकी थी। ठगों ने उसे छोड़ने के लिये पांच लाख की मांग की और उससे चार लाख पचहत्तर हजार रूपयंे ले लिये।
       
इस मामले की शिकायत डॉक्टर महानंद सिंह ने थाना साहिबाबाद में अपने ठगे जाने की शिकायत की। पुलिस की जांच में रविंदर उर्फ टिंकू पर संदेह हुआ और सर्विलांस की मदद से रविंद्र उर्फ टिंकू तथा उसके साथी कमल उर्फ भूरे, प्रीतम सिंह व कपिल को गिरफ्तार कर दो लाख साठ हजार रूपये बरामद कर लिए। इनसे घटना में प्रयुक्त 4 मोबाइल फोन भी बरामद हुए हैं। पुलिस ने डाक्टर की दो डिग्री चार मोबाइल फोन तथा दो लाख60हजार कैष को सील कर चारों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया 




Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment