पकड़े जाने के बाद भी छोड़े लुटेरे, साहिबाबाद पुलिस का कारनामा The fugitives left after being caught, the operation of Sahibabad police



साहिबाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  पीले क्वार्टर लोहिया नगर गाजियाबाद  निवासी शिव कुमार निषाद का आरोप है कि लुटेरों के पकड़े जाने के बावजूद थाना साहिबाबाद पुलिस ने उसकी लूट की रिपोर्ट नहीं लिखी और बदमाशों को छोड़ दिया। उसने इसकी शिकायत एसएसपी गाजियाबाद से  की इसके बाद भी उसे कोई फायदा नहीं हुआ। आज थाना साहिबाबाद पुलिस ने अपनी मर्जी की तहरी लिखवाई है और कहा है कि तुम्हारी रिपोर्ट अव दर्ज हो जाएगी। लेकिन मामला डायलूट कर दिया गया है।
        
शिव कुमार निषाद पुत्र राज बहादुर निषाद निवासी 89/12 पीले क्वाटर लोहियानगर गाजियाबाद में रहता है और वह दिल्ली राज्य सरकार की नंदनगरी स्थित एक शराब की दुकान पर सेल्समैन है। घटना 5सितम्बर की रात 10.15 के करीब है। वह अपने काम खत्म कर घर वापस बाइक से लौट रहा था। तभी एयर फोर्स स्टेशन हिंडन के पास स्थित पानी की टंकी के सामने दो अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने उस को ओवरटेक कर रोक लिया और उस से पिस्तौल के बल पर लूटपाट करनी शुरू कर दी। उसने बताया कि बदमाश नशे में धुत्त थे इसलिये उसने बदमाश की पिस्टल पकड़ ली और उन्हें ललकारा। लेकिन बदमाशों ने गोली मारने की धमकी दी और उसके उपर गोली चला दी लेकिन वह बाल- बाल बच गया। बदमाशों ने उससे एटीएम कार्ड, दुकान की चाबी, बैंक के काजात,आधार कार्ड और नकद 3200रूपये आदि लूट लिए। उसने 100 नंबर पर पुलिस को सूचना दी लेकिन फोन नहीं मिला। इसके बाद  उसने फिर पुलिस के नियंत्रण कक्ष को फोन किया तो करण गेट पुलिस चैकी से पुलिसकर्मी आए और उसे मोहन नगर पुलिस चैकी ले गये। वहां उन्होंने पकड़े गये बदमाशों की पहचान कराई गई। उसने देखा कि उससे लूटपाट करने वाले बदमाश वही दोनों थे और वही पिस्तोलें थीं। उसे पुलिस वालों ने बताया कि बदमाश नशे में होने के कारण सड़क हादसें में  घायल हो गए हैं। पहले इनका इलाज कराना पड़ेगा। तुम अब अपने घर जाओ हम कार्रवाई करेंगे । उसका आरोप है कि बदमाशों के पकड़े जाने के बावजूद भी पुलिस ने उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की और बदमाशों को छोड़ दिया गया।
        
 इस मामले को लेकर वह एसएसपी गाजियाबाद से मिला उन्होंने फिर थाना साहिबाबाद भेज दिया। यहां आज उसकी रिपोर्ट में  हवाई फायर और लूट की बात नहीं लिखने की कहा गया तब तहरीर ली है और कहा है कि घर जाओ तुम्हारी रिपोर्ट अब दर्ज हो जायेगी।

फोटो कैप्षन- लूट का पीड़ित शिवकुमार निषाद। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment