क्या परवीन बॉबी की मौत का कारण थे डायरेक्टर महेश भट्ट? Was Mahesh Bhatt the director of the cause of Parvin Bobby's death?



मुंबई।   महेश भट्ट ये नाम बॉलीवुड  में शूमार है। महेश भट्ट फिल्म डायरेक्टर के साथ-साथ फिल्में भी प्रोड्यूस करते हैं। महेश नें बॉलीवुड में सेकड़ो फिल्मों का डायरेक्शन किया हैं उनकी फिल्में काफी सबजेक्टिव भी होती हैं और कई बार बिना सर-पैर के भी। महेश भट्ट की फिल्मे ज्यादातर सेक्स और धोखा के कॉन्सेप्ट पर ही आधारित होती हैं। महेश भट्ट ने अपने करियर की शुरुआत 1974  में फिल्म मंजिल से की। ये फिल्म हिट हुई उसके बाद महेश भट्ट के करियर ने डायरेक्शन के क्षेत्र में कमांड पकड़ ली। और फिर वो लगातार हिट फिल्में देने लगे। यहाँ उनकी कुछ प्रसिध्द फिल्में – कारतूस, ये है मुंबई मेरी जान, अंगारे, तमन्ना (1997), दस्तक, चाहत, पापा कहते हैं, नाजायज, क्रिमिनल, नाराज, दिल है कि मानता नहीं आदि। महेश की 'सारांश' फिल्म मास्को अनतर्राष्ट्रीय फिल्म उत्सव में दिखाई गयी थी। फिल्म सारांश की कहानी लिखने के कारण इन्हे कई बार अवार्ड भी मिला। 

महेश भट्ट की जिंदगी के बारे में लोग बहुत ही कम जानते है। महेश भट्ट का जन्म 20 सितंबर, 1949 को मुंबई के फिल्म निर्माता परिवार में हुआ था। कि उनके माता-पिता की की शादी नहीं हुई थी। महेश भट्ट की माँ का नाम शिरीन था ये मुस्लिम समुदाय से थी और उनके पिता बटुक भट्ट हिन्दू थे। जिसके चलते उन्होंने शादी नहीं की। महेश भट्ट परवरिश उनकी मां ने की थी। वह हमेशा अपने पिता से दूर रहे।

महेश भट्ट जब कॉलेज की पढ़ाई कर रहे थे तब उनको एक लड़की से प्यार हो गया था। जिसका नाम लॉरियन ब्राइट था। महेश भट्ट ने 20 साल की उम्र में लॉरेन ब्राइट से शादी की थी। शादी के कुछ वक़्त बाद लॉरेन ने अपना नाम बदलकर किरण भट्ट कर लिया था। इस शादी से उनके दो बच्चे हुए पूजा भट्ट और राहुल भट्ट, लेकिन ये शादी टिक नहीं पाई। इस शादी के टूटने की वजह थी परवीन बॉबी और महेश भट्ट का अफेयर। मगर परवीन बॉबी की बीमारी की वजह से महेश उनसे अलग हो गए और अपनी बीवी के पास लौट गए। कहते है परवीन बॉबी महेश भट्ट से प्यार करती थी ये सदमा वो बरदाश नहीं कर सकी और वो बीमार होने के साथ-साथ डिप्रेशन में चली गई और कुछ दिन बाद पता चला की कि परवीन बॉबी की लाश उनके फ्लेट से 3 दिन बाद निकाली गई। 

मुस्लिम धर्म कबूला

किरण के पास वापस लौटने के बाद भी दोनों के रिश्ते में कड़वाहट बरक़रार रही, जिसका नतीजा ये हुआ कि साल 1986 में महेश भट्ट ने सोनी राज़दान से दूसरी शादी कर ली। सोनी मुस्लिम फेमिली से आती थी तो इस शादी के लिए महेश भट्ट नै मुस्लिम धर्म कबूल कर लिया था। सोनी राज़दान से शादी के बाद उनके घर दो बेटियों शाहीन भट्ट और आलिया भट्ट ने जन्म लिया। आलिया अब बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस बन चुकी हैं।

महेश भट्ट ने अपनी बेटी पूजा भट्ट की किया लिप-टू-लिप Kiss 

आपको बता दे की महेश भट्ट ने एक मैगज़ीन के लिए बेटी पूजा भट्ट को किस करते हुए फोटोशूट कराया था। फिर महेश भट्ट ने कुछ ऐसा कहा की सब सुनकर हैरान रह गए थे। उन्होंने कहा की अगर पूजा भट्ट उनकी बेटी नहीं होती वो वह उनसे शादी कर लेते। महेश भट्ट चाहे कितने भी विवादों से घिरे रहे हो लेकिन उन्होंने कभी इन सब बातो को गंभीरता से नहीं लिया। 





Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment