आशा कार्यकर्ता का यात्रा निगरानी भत्ता 1000 रुपए बढ़ा Asha worker's traveling allowance increased by Rs. 1000



नयी दिल्ली । केंद्र सरकार ने लोक स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत को प्रोत्साहन देने के लिये आशा कार्यकर्ता का निगरानी यात्रा भत्ता 5000 रुपए से बढ़ाकर 6000 रुपए तक प्रति माह कर दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अध्यक्षता बुधवार को यहां हुई मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने आशा कार्यकर्ताओं के निगरानी यात्रा भत्ता बढ़ाने के प्रस्ताव का अनुमोदन कर दिया है।

बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी देते हुए बताया कि अक्टूबर 2018 से अाशा कार्यकर्ताओं को निगरानी यात्रा भत्ते के रुप से 250 रुपए प्रति यात्रा के स्थान पर 300 रुपए प्रति यात्रा दिये जाएगें। प्रत्येक आशा कार्यकर्ता प्रति माह तकरीबन 20 निगरानी यात्रायें करती हैं। इसके अनुसार उन्हें अभी तक 5000 रुपए तक प्रति माह निगरानी यात्रा भत्ता मिल रहा था जो अक्टूबर 2018 से 1000 रुपए बढ़कर 6000 रुपए तक हो जाएगा। उन्होंने कहा कि आशा कार्यकर्ताओं को नवंबर 2018 में बढ़ा हुआ यात्रा भत्ता मिलेगा। यह मंजूरी 2018-19 से 2019-20 तक के लिये दी गयी है।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment