26 नवम्बर, से शतप्रतिशत टीकाकरण के लिए सभी विभागों का सहयोग जरूरी -जिलाधिकारी All departments need to cooperate for vaccination of 100% vaccine from 26th November - Collector



जिलाधिकारी ने मीजिल्स-रूबैला टीकाकरण अभियान की अन्तर्गत स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा की।


गाजियाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी कलेक्टेªट सभागार में दिनांक 26 नवम्बर, 2018 से मीजिल्स रूबेैला का विशेष टीकाकरण अभियान चलाने हेतु स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ वार्ता कर रही थी। उन्होने कहा कि वन विलेज, वन टीम प्रतिदिन स्कूलों में कैम्पन चलाया जायेगा जिसके लिए माईक्रो प्लानिंग कर ली जाये। इस अभियान में 100 प्रतिशत बच्चों को लक्षित किया गया है। इसमें शिक्षा विभाग, व माध्यमिक शिक्षा, बाल विकास परियोजना विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होने बी0एस0 को निर्देश दिये कि जनपद के समस्त प्राथमिक/उच्च प्राथमिक एवं पंजीकृत छात्र/छात्राओं की संख्या प्रत्येक विद्यालय से प्रदत्त फार्म पर अंकित कराकर ब्लाक चिकित्सा अधीक्षक/प्रभारी चिकित्साधिकारी को 22 नवम्बर तक उपलब्ध करायेगे। उन्होने जिला विद्यालय निरीक्षक से कहा कि जनपद के समस्त मान्यता प्राप्त/गैर मान्यता प्राप्त हायर सैकण्ड्री एवं इन्टर मीडियएट विद्यालयों में 15 वर्ष तक के अध्ययनरत बच्चों की सूची तैयार कर प्रभारी चिकित्साधिकारी को दे दें। 
      
उन्होने कहा कि बाल विकास परियोजना अधिकारी विकास खण्ड वार आंगनवाड़ी केन्द्रों में आने वाले 9 माह से 15 वर्ष तक के बच्चों का संघन सर्वे कराकर कार्य योजना में सम्मिलित करें। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी मदरसों में पढने वाले बच्चों की संख्या की सूची प्रभारी चिकित्सा को उपलब्ध करा दें। इस अभियान हेतु कार्यशालाये आयोजित की जायेगी ये एक माह का कैपेन है। 
      
स्वास्थ्य विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि इस माह संस्थागत प्रसव कम हुये है। इस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जतायी तथा खराब रैकिंग के लिए संयुक्त चिकित्सालय के अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी से कहा कि मुझे माह बार प्रगति रिपोर्ट बनाकर प्रस्तुत करें। मलेरिया व डेैगू को रोकने हेतु मच्छर जनित दवाई का छिड़काव किया जाये टीकाकरण में 10 प्रतिशत छूटे हुये बच्चों को भी प्रतिरक्षित किया जाये। आशाओं  व स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के भुगतान को लेकर जिलाधिकारी गम्भीर दिखी उन्होने कहा कि कर्मचारियों व आशाओं के भुगतान में शिकायते आयी तो सम्बन्धित के विरूद्व मुकदमा दर्ज किया जायेगा। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी से कहा कि गत बैठक में बताये गये निर्देशो का अनुपालन क्यों नही हो रहा है। आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत जिलाधिकारी ने कहा कि शहर में होर्डिग्स की संख्या और बढायी जाये। 
       
बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी व सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment