राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का केस दायर Filed a defamation case against Rahul Gandhi



भोपाल,  (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा पनामा पेपर्स मामले में कथित तौर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिं चौहान के पुत्र का नाम लेने पर आज यहां श्री कार्तिकेय चौहान की ओर से श्री गांधी के खिलाफ अदालत में मानहानि का परिवाद पेश किया। 
जिला अदालत के न्यायाधीश सुरेश सिंह की अदालत में अधिवक्ता शिरीष श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के पुत्र कार्तिकेय की ओर से मानहानि का परिवाद पेश किया। परिवाद में श्री गांधी द्वारा कल मध्यप्रदेश की यात्रा के दौरान सार्वजनिक मंच से पनामा पेपर्स मामले को लेकर दिए गए बयान को आधार बनाया गया है। इस बयान में श्री गांधी के मुख्यमंत्री के पुत्र संबंधी बयान का उल्लेख है। 
अदालत परिसर में अधिवक्ता श्री श्रीवास्तव ने मीडिया से कहा कि परिवाद में श्री गांधी के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धाराओं के तहत कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है। ये धाराएं मानहानि से जुड़ी हैं। उन्होंने कहा कि अदालत में इस मामले में तीन नवंबर को कार्तिकेय चौहान की गवाही हो सकती है। अधिवक्ता का कहना है कि श्री गांधी ने जानबूझकर इस तरह का बयान दिया है।
श्री गांधी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कल से मध्यप्रदेश के इंदौर और उज्जैन संभाग के दो दिवसीय दौरे पर हैं। श्री गांधी ने कल उज्जैन के बाद झाबुआ में चुनावी सभा को संबोधित किया था। कथित तौर पर झाबुआ में श्री गांधी ने 'पनामा पेपर्स' का जिक्र किया और कहा कि मामा के पुत्र का नाम भी इसमें आया है, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुयी। 
इसके बाद से मुख्यमंत्री श्री चौहान और उनके पुत्र कार्तिकेय चौहान ने कल रात ही ट्वीट के जरिए तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की और चेतावनी दी थी कि श्री गांधी के खिलाफ मानहानि का केस लगाया जाएगा।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment