सुषमा स्वराज ने किया ऐलान, 2019 में नहीं लड़ेंगी लोकसभा चुनाव Sushma Swaraj not to contest Lok Sabha elections in 2019



इंदौर। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को यह कहकर सियासी सरगर्मियां बढ़ा दीं कि उन्होंने अपने किडनी प्रतिरोपण के बाद स्वास्थ्य कारणों से अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है। स्वराज यहां संवाददाताओं से कहा, "वैसे तो मेरी चुनावी उम्मीदवारी तय करने का अधिकार मेरी पार्टी को है। लेकिन स्वास्थ्य कारणों से मैंने अपना मन बना लिया है कि मैं अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगी।’’ सुषमा, 2009 से ही लोकसभा में मध्यप्रदेश के विदिशा क्षेत्र की नुमाइंदगी कर रही हैं।


ANI
@ANI
 #WATCH: "It is the party which decides, but I have made up my mind not to contest next elections," says External Affairs Minister and Vidisha MP Sushma Swaraj

537
3:30 PM - Nov 20, 2018
217 people are talking about this
Twitter Ads info and privacy
भाजपा की 66 वर्षीय नेता ने कहा, "विदिशा से वर्ष 2009 में लोकसभा सदस्य चुने जाने के बाद मैं सदन की नेता प्रतिपक्ष और इसके पश्चात विदेश मंत्री के अहम पदों पर आसीन होने के बावजूद आठ साल तक अपनी संसदीय सीट के आठों विधानसभा क्षेत्रों में हर महीने नियमित तौर पर जाती थी। लेकिन दिसंबर 2016 में किडनी प्रतिरोपण के बाद मुझे डॉक्टरों ने धूल से बचने की हिदायत दी है। इस कारण मैं पिछले एक साल से चुनावी सभाओं में भी भाग नहीं ले पा रही हूं।"



उन्होंने कहा, "मैं स्वास्थ्य कारणों से खुले स्थानों पर आयोजित कार्यक्रमों में शामिल नहीं हो सकती हूँ। मैं बंद सभागारों में ही कार्यक्रम कर सकती हूं। मैंने अपने नेतृत्व से भी कहा है कि अपने स्वास्थ्य की मर्यादा को देखते हुए मुझे धूल से बचना है।" स्वराज ने कहा, "मैं विदेश तो जा सकती हूँ। लेकिन धूल से बचने की डॉक्टरी हिदायत के कारण गुजरे अरसे में विदिशा नहीं जा सकी, क्योंकि कुछेक कस्बों को छोड़कर मेरा पूरा संसदीय क्षेत्र देहाती है।"

गुजरे अरसे में विदिशा क्षेत्र में स्वराज के नहीं पहुंचने पर नाराज लोगों ने लोकसभा सांसद को "गुमशुदा" बताते हुए पोस्टर लगाये थे। इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "अगर मेरे विरोधी मेरे स्वास्थ्य के प्रति इस कदर संवेदहीन होकर ऐसे पोस्टर लगाते हैं, तो मुझे इस पर कुछ नहीं कहना।" उन्होंने कहा, "'मेरा रिकॉर्ड मध्यप्रदेश की ऐसी लोकसभा सांसद का रहा है, जिसने अपने क्षेत्र का सबसे ज्यादा दौरा किया है। पिछले दो साल के दौरान मैं भले ही अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा नहीं कर सकी हूं। लेकिन मैंने विदिशावासियों से किये गये सारे वादे दिल्ली में बैठकर पूरे किये हैं।" स्वराज ने कहा, "बुधनी-इंदौर रेललाइन को मंजूरी दिलाने का वायदा भी मैंने आगामी चुनावों से पहले पूरा कर दिया है।"




Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment