परीक्षा के 3 दिन पहले तक एसओएल प्रशासन द्वारा प्रवेश पत्र जारी न किये जाने के कारण छात्रों में अफरातफरी Students were frustrated due to not being issued by the SOL



  • केवाईएस ने किया विरोध प्रदर्शन
  • एसओएल प्रशासन की केवाईएस ने की भर्त्सना
  • छात्रों से माफी मांगने की माँग उठाई


नई दिल्ली, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  क्रांतिकारी युवा संगठन (केवाईएस) के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली विश्वविद्यालय के एसओएल छात्रों के साथ मिलकर आज आर्ट्स फैकल्टी पर एसओएल प्रशासन के खिलाफ परीक्षा के 3 दिन पहले तक प्रवेश पत्र नहीं जारी करने को लेकर प्रदर्शन किया।
ज्ञात हो कि स्नातकोत्तर एम.ए. राजनीति विज्ञान छात्रों में परीक्षा के तीन दिन पहले तक प्रवेश पत्र न जारी किये जाने से भारी अफरातफरी है। ज्ञात हो कि एसओएल के स्नातकोत्तर छात्रों की परीक्षा 3 दिन बाद 26 नवम्बर से शुरू होने वाली है, और एसओएल प्रशासन ने ज्यादातर छात्रों के प्रवेश पत्र अभी तक जारी नहीं किये हैं। ज्ञात हो कि एसओएल ऐसा हर साल करता रहा है। पिछले साल भी  स्नातकोत्तर छात्रों की परीक्षा की तिथियों को परीक्षा शुरू होने से 3 दिन पहले ही बताया गया था। 2016 में भी स्नातक छात्रों को उनका प्रवेश पत्र परीक्षा के 3 दिन पहले ही जारी किया गया था।

जहाँ एक ओर दिल्ली विश्वविद्यालय के रेगुलर कोर्सों में प्रवेश पत्र परीक्षा से करीब एक महीने पहले ही जारी कर दिया जाता है, वहीं एसओएल में छात्रों को परीक्षा की तैयारी का भी समय नहीं दिया जाता। ज्ञात हो प्रवेश पत्र पहले नहीं जारी होने के कारण छात्रों में भारी घबराहट थी कि कहीं उनका एक साल इम्तेहान नहीं दिए जाने की वजह से बर्बाद न हो जाए। पेपर लीक और नकल रोकने का कारण जो एसओएल बता रहा है, वो भी इसलिए होता है क्योंकि छात्रों को पढ़ाई के नाम पर सिर्फ 13 दिन की आधी-अधूरी कक्षाएं ही मुहैया कराई जाती हैं। इन कक्षाओं में भी छात्रों को भीड़ और टीचर की गैरमौजूदगी झेलनी पड़ती है। इसके साथ-साथ एसओएल प्रशासन ने सिलेबस से सम्बंधित उलझनों के बारे में भी स्थिति स्पष्ट नहीं की है। छात्रों को जो स्टडी मटेरियल मुहय्या करवाया जाता है उसमे बस 30 प्रतिशत सिलेबस ही खत्म हो पाता है। जाहिर है इसके कारण छात्रों के परीक्षा परिणाम पर दुष्प्रभाव पड़ेगा।

केवाईएस एसओएल प्रशासन की कड़ी भर्त्सना करता है और छात्रों का कीमती समय बर्बाद करने के लिए माफी मांगने की मांग करता है। साथ ही, आने वाले दिनों में केवाईएस एसओएल के छात्र-विरोधी रवैये के खिलाफ छात्रों को आंदोलनरत करेगा।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment