परिवारिक मामलों को नहीं किया जाना चाहिए सार्वजनिक: तेजस्वी यादव Family matters should not be public: Tashish Yadav



पटना। राजद नेता तेजस्वी यादव ने उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव द्वारा दायर की गई तलाक की याचिका पर मीडिया सुर्खियों को लेकर शनिवार को नाखुशी जाहिर की और कहा कि परिवारिक मामलों को सार्वजनिक नहीं किया जाना चाहिए। तेज प्रताप ने शुक्रवार की शाम को अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक के लिए याचिका दायर की थी। तेज प्रताप और राय की शादी छह महीने पहले ही हुई थी। तेजस्वी ने कहा कि एक महिला कांस्टेबल की मौत के बाद कल बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी सड़कों पर उतर आये थे। यह एक गंभीर मुद्दा है तथा कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के लिए चिंता की बात है और मीडिया द्वारा इसे सही ढ़ंग से दिखाया जा रहा था।

उन्होंने कहा कि लेकिन शाम तक सब कुछ भूला दिया गया और एक परिवार में घटित बातें आकर्षण का केन्द्र बन गई। तेजस्वी ने कहा कि घरेलू मामलें लोगों को प्रभावित करते है लेकिन केवल परिवार के सदस्यों को। ये सार्वजनिक मुद्दे नहीं है। इस बीच राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद के करीबी सहयोगी रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि परिवारों में मनमुटाव हो जाते है और उनका समाधान भी हो जाता है। उन्होंने कहा कि इस प्रकरण का तेज प्रताप की राजनीतिक संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

सिंह ने पत्रकारों के सवालों के जवाब में कहा कि तेज प्रताप की तलाक याचिका राजनीतिक रूप से किसी को भी प्रभावित क्यों करेगी? अपनी पत्नी से अलग होने के बावजूद क्या नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं बने और क्या भाजपा ने चुनाव नही जीता।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment