यशोदा अस्पताल में लाइव कार्यशाला Live workshop at Yashoda Hospital



                                         यशोदा अस्पताल में वर्कशाॅप की जानकारीे देते डा. नीरज जैन।

कौशाम्बी, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, कौशाम्बी, गाजियाबाद में डॉक्टरों के लिए सजीव कार्यशाला (लाइव वर्कशॉप) का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आयोजित वर्कशॉप में भारत के व अन्तर्राष्ट्रीय 30 डॉक्टरों ने प्रशिक्षण लिया, जिनमे इजिप्ट, इराक एवं अन्य देशों के डॉक्टर भी सम्मिलित थे। इन सभी को संवेदनाहरण विज्ञान (पेन मैनेजमेंट) की महत्वपूर्ण विधियों का प्रशिक्षण दिया गया,  जिससे इन डॉक्टरों में आत्म निर्भरता लाई जा सके। आजकल संवेदनाहरण विज्ञान मुख्य  नैदानिक विभागों में से एक होता जा रहा है तथा धीरे धीरे इसकी मांग भी बढ़ रही है ।
           
 इस अवसर पर आयोजित एक प्रेस वार्ता आयोजित की गयी जिसमें स्थानीय विधायक सुनील शर्मा ने भी अपने विचार रखे। प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए डॉ नीरज जैन एवं डॉ सुनील शर्मा ने कहा कि इस सजीव कार्यशाला का उद्देश्य चिकित्सा शिक्षा की संवेदनाहरण विज्ञान  में स्नातक और स्नातकोत्तर डॉक्टरों, एमर्जेन्सी विभाग के डॉक्टरों  को प्रशिक्षित करना है ताकि भारत के व् विश्व स्तर पर चिकित्सा संस्थानों में संवेदनाहरण विज्ञान के उच्च  मानक एवं तकनीकी  का उपयोग मरीजों को दर्द से निजात पाने के लिए किया जा सके। इसमें हड्डियों से जुड़ी समस्याओं का बिना ऑपरेशन दर्द कम करने का  इलाज करने के संदर्भ में प्रशिक्षण दिया गया।  सजीव ऑपरेशन वीडियो विश्लेषण के माध्यम से इस दौरान डाक्टरों को इसकी जानकारी विशेषज्ञ डॉक्टरों ने दी।

        
अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त पेन मैनेजमेंट कंसल्टेंट डॉ नीरज जैन ने इस वर्कशॉप की अध्यक्षता की।  यशोदा हॉस्पिटल कौशाम्बी में आयोजित इस वर्कशॉप का संचालन वरिष्ठ पेन मैनेजमेंट विशेषज्ञ डॉक्टर सुनील शर्मा ने किया। प्रेस वार्ता एवं वर्कशॉप में डॉ सुनील डागर, गौरव पांडेय, डॉ सुदेश प्रकाश, डॉ कुशान्त मौजूद थे।






Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment