आयुक्त की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई मण्डलीय विकास कार्यो की समीक्षा बैठक Review Meeting of the Board for Developmental Committees headed by Commissioner



  • शासन को जल्द भेजे प्रधानमंत्री आवास योजना की डीपीआर-अनीता सी मेश्राम
  • मेरठ के 14 सहित मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना में चयनित हुए मण्डल के 37 ग्राम-अनीता सी मेश्राम
  • शहीद सैनिकों के ग्रामों में बनेंगे तारण द्वार होगी मूर्ति स्थापना-मण्डलायुक्त


मेरठ, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  आयुक्त सभागार में  शासन के उच्च प्राथमिकता प्राप्त 70 विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की मण्डलीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए आयुक्त अनीता सी मेश्राम ने अधूरे निर्माण कार्यो को जल्द पूर्ण कराने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना की डीपीआर को शीघ्र बनाकर शासने को भेजने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पतालों में रिक्त पड़े डाॅक्टरों के पदों को भरने के लिए प्राईवेट डाॅक्टरों से उनके द्वारा दिये जाने वाले समय व ली जाने वाली धनराशि की जानकारी प्राप्त कर शासन से अनुमति उपरान्त डाॅक्टरों की नियुक्ति करायें।
आयुक्त अनीता सी मेश्राम ने कहा कि झारखण्ड राज्य में प्रयोग के तौर पर सरकारी अस्पतालों में रिक्त पड़े पदों को प्राइ्रवेट डाॅक्टरों से समय व धनराशि की जानकारी प्राप्त कर उनके अस्पतालों में लगाया गया जिससे रिक्त पदों को भरने में सुविधा हुई व आमजन को सहुलियत हुई। उन्होंने बताया कि मण्डल में करीब 145 डाॅक्टरों की कमी विभिन्न सरकारी अस्पतालों में है इनकों पूरा किया जाएगा।
आयुक्त ने निर्देशित किया कि अधूरे निर्माण कार्यो को जल्द पूरा कराये तथा निर्माण कार्यो को सतत निरीक्षण व अनुश्रवण करते हुए उसकी गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने कहा कि विकास कार्यो को पूरा कराने के लिए धनराशि की कोई कमी नहीं होगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना में मण्डल में 37 ग्रामों का चयन हुआ है जिसमें मेरठ में 14, बुलन्दशहर में 07, हापुड़ में 13 व गाजियाबाद में 03 ग्राम्र है इन ग्रामों को 25 से ज्यादा विकास कायों से संतृृप्त किया जाएगा।
आयुक्त ने बताया कि मा0 मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना में प्रदेश व मण्डल में विवाह कार्यक्रम नवम्बर के अंत तक करायें जायेंगे जिसमें मेरठ मंे 125 जोड़ो का विवाह कराया जाएगा।  उन्होंने बताया कि शहीद सैनिकों के ग्रामों में तारण द्वार व मूर्ति स्थापना का निर्णय सरकार द्वारा लिया गया है। उन्होंने निर्देशित किया कि जो विभाग विभागीय कायों से जैसे सीवर, पाइप लाइन या अन्य कारणाों से निर्मित सड़कों को तोड़ते है वह उसे यथा समय प्राथमिकता पर सही कराना सुनिश्चित भी करें।
आयुक्त ने निर्देशित किया कि प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में स्वैटर वितरण का कार्य 20 नवम्बर तक पूर्ण करायें। उन्होंने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत आगामी 19 नवम्बर को विश्व शौचालय दिवस का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने नहर की सफाई को प्राथमिकता पर कराकर टेल एंड तक पानी पहुंचानें व टेल एंड के किसानों के मोबाइल पर सम्पर्क कर सफाई की व्यवस्था को जानने के लिए निर्देशित किया। 
 
उन्होंने बताया कि शासन ने एक जनपद एक उत्पाद योजना को विकास प्राथमिकताओं में जोड़ा है। उन्होंने बताया कि इन्वेस्टर्स समिट के दौरान हुए एमओयू में मेरठ मण्डल में 77हजार 181 करोड़ रूपये के  271 एमओयू हस्ताक्षर किये गये जिसमें से 22 यूनिट ने कार्य करना प्रारम्भ कर दिया है तथा 33 पर निर्माण कार्य प्रारम्भ है। 
संयुक्त विकास आयुक्त रामरक्ष पाल यादव ने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में मण्डल में 176.443 किमी की 33 सड़कों का निर्माण कराया जाना था, जिसमें से 29 पूर्ण हो गयी है तथा शेष को जल्द पूर्ण कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जनपद हापुड़ में बनाये जा रहे जिला अस्पताल का कार्य 66 प्रतिशत पूर्ण हो गया है तथा शेष को 31 मार्च 2019 तक पूर्ण करा लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि लोनिवि द्वारा 24 नई सड़के बनाने का लक्ष्य था जिसमें से 21 पूर्ण हो गयी है तथा 10 सेतु बनाने का लक्ष्य था जिसमें से 02 पूर्ण हो गये है।  उन्होंने बताया कि 50 लाख रूपये से अधिक लागत के ,सड़क को छोड़कर, मण्डल में 232 कार्य करायें जाने है जिसमें से 48 पूर्ण हो गये है। 
मुख्य वन संरक्षक ललित वर्मा ने बताया कि सरकार ने अगले साल लगाये जाने वाले पौधो की रूप रेखा तैयार कर ली है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अगले वर्ष 22 करोड़ पौधो का रोपण किया जाएगा जिसमें से 87 लाख पौधो का रोपण मेरठ मण्डल में किया जाएगां। उन्होंने बताया कि शासन ने इस पर अभी से कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिये है जिस पर कार्य चल रहा  है। 
इस अवसर पर पंचायती राज विभाग, विभिन्न छात्रवृत्ति, पेंशन योजना, मनरेगा, एनआरएलएम, पेयजल मिशन, खाद्य एवं आपूर्ति, विद्युत, गन्ना, कृषि विभाग, अमृत एवं स्मार्ट सिटी तथा आईसीडीएस योजना पर विस्तार से चर्चा की गयी एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। 
इस अवसर पर जिलाधिकारी मेरठ अनिल ढींगरा, गौतमबुद्धनगर बीएन सिंह, गाजियाबाद रितु माहेश्वरी, हापुड़ अदिति सिंह, बुलन्दशहर अनुज झा, मुख्य विकास अधिकारी मेरठ आर्यका अखौरी, हापुड़ दीपा रंजन, संयुक्त आयुक्त खाद्य सत्यदेव, अपर निदेशक स्वास्थ्य रेनु गुप्ता, संयुक्त निदेशक कृषि सुनील कुमार अग्निहोत्री, उपश्रमायुक्त दीप्तीमान भटट, मुख्य अभियंता एमडीए दुर्गेश श्रीवास्तव, अपर नगर आयुक्त अमित सिंह, सहायक निदेशक बेसिक शिक्षा ऐके सिंह सहित विमिन्न विभागों के मण्डल स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment