चोरी का माल खरीदने का आरोप लगाकर सर्राफा कारोबारी पर थर्ड डिग्री Third Degree on Sarafa Trader



                                                     प्रतिकात्मक फोटो 
साहिबाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  हिंडनपार क्षेत्र सर्राफा एसोसिएशन ने थाना लिंक रोड पुलिस पर आरोप लगाया है कि उसने बृजबिहार के एक सर्राफा कारोबारी को जबरन दुकान से उठाकर थाने में थर्ड डिग्री दी तथा उसे थाने में पहले से बैठाकर रखे गये एक कथित चोर से चोरी का माल खरीदने की घटना को काबूल करने को कहा। व्यापारी के इंकार करने पर उसे लात घूसेे से मारा तथा थर्ड डिग्री दी। इस घटना से सर्राफा कारोबारियों में रोष है तथा उन्होंने आरोपी पुलिस कर्मियों पर मुकद्दमा दर्ज कर उनकी बर्खास्तगी की मांग की है।
        
ट्रांसहिंडन सर्राफा व्यापारी एसोसिएशन तथा पीड़ित व्यापारी ने आरोप लगाया है कि थाना लिंक रोड पुलिस के इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र गौतम के इशारे पर सर्राफा कारोबरी के साथ बदसलूकी की गयी। घटनाक्रम के अनुसार 29नबम्बर को दोपहर 11 बजे के करीव एक निजी कार से सादा लिवास के आये चार लोगों ने महालक्ष्मी ज्वैलर्स बृजबिहार के कारोबारी धीरज वर्मा को उसकी दुकान से जबरन उठाया और कार में डाल कर अपने साथ थाना लिंकरोड ले गये। वहां पुलिस कर्मचारियों ने उसे थाने में पहले से बैठाकर रखे गये एक कथित चोर से चोरी का माल खरीदने की घटना को काबूल करने को कहा गया। कबूल न करने पर बृज बिहार के इस सर्राफा व्यापारी को गंभीर यातनाएं दीं गयीं और लात घूसों से मारा गया। उससे फिर चोरी का सामान खरीदने का कबूल नामा करने को कहा गया। आरोप है कि जब कारोबारी ने पुनः  इंकार किया तो उसे और मारा पीटा गया तथा उसे अपने घर और किसी कारोबारी से बात नहीं करने दी। 
        
जब व्यापारी ने कहा कि उसने कथित चोर को कभी नहीं देखा न उसकी दुकान पर कभी आया है। उसकी यह बात उसकी दुकान में लगे सीसीटीवी की जांच से स्पष्ट हो सकती है। उसके कहने पर व्यापारी की दुकान पर लगे सीसीटीवी कैमरे के डीबीआर की जांच की गयी तब फोटो में कथित चोर नहीं दिखा। तब तक व्यापारी को पुलिस की प्रताड़ना सहते 8 घंटे बीत गये। इस बात की जानकारी तब तक अन्य व्यापारियों को लग गयी। बाद में सर्राफा व्यवसायियों के भारी दबाव के बाद सर्राफा व्यापारी को छोड़ा गया।
         
 ट्रांसहिंडन एरिया की सर्राफा एसोसिएशन ने आरोप लगाया कि एक ओर तो व्यापारियों की पुलिस सुरक्षा दे नहीं पा रही, कारोबारियों के यहां दिन दहाड़े डाके पड़ रहे हैं ,चोरियां उनके प्रतिष्ठानों में हो रहीं हैं। उपर से उसे चोरी की सामान खरीदने का आरोप लगाकर उसे थर्ड डिग्री यातना दी जारही है। इस मामले में व्यापारी सीओ साहिबाबाद डा.राकेश मिश्रा से मिले और उनसे मामले की जांच कराने तथा दोषी पुलिसकर्मियों पर मुकद्दमा दर्ज कर उन्हें बर्खास्त करने की मांग की। मिलने बालों में  सर्राफा व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष नकुज वर्मा,सरसा,मनीष वर्मा,नितिन, संजीव, अशोक आनंद, राजन, सचिन तथा गाजियाबाद सर्राफा एसोसिएशन के अध्यक्ष राज किशोर आदि थे।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment