भारी सुरक्षा के बीच राजस्थान और तेलंगाना में मतदान के लिए तैयारियां पूरी Prepare for voting in Rajasthan and Telangana between heavy security



नयी दिल्ली, ( शांतिदूत न्यूज नेटवर्क )  राजस्थान और तेलंगाना विधानसभा के लिए कल होने वाले मतदान की सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी है और विभिन्न जिलों में मतदान केन्द्रों में चुनावकर्मियों तथा अर्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई हैं।

राजस्थान की दो सौ में से 199 विधानसभा सीटों के लिए प्रातरू आठ बजे से शाम पांच बजे तक मतदान होगा। अलवर में रामगढ़ विधानसभा सीट पर बसपा प्रत्याशी के निधन के बाद यहां चुनाव स्थगित किया गया है।
राजस्थान में 199 सीटों के लिए हो मतदान में चार करोड़ 74 लाख 761 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें दो करोड़ 47 लाख 22 हजार 365 पुरुष एवं दो करोड़ 27 लाख 15 हजार 396 महिला मतदाता है। इनमें से प्रथम बार मतदान कर रहे युवा मतदाताओं की संख्या 20 लाख 20 हजार 156 है। राज्य में सेवा नियोजित मतदाताओं की संख्या एक लाख 16 हजार 456 है जिनके लिए पोस्टल बैलट का इंतजाम किया गया है।

राज्य में 2274 उम्मीदवार चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे है। इनमें प्रमुख राजनीतिक दल कांग्रेस के194 ,भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) 199, बहुजन समाज पार्टी के 189,राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का एक, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) 28 एवं कम्युनिस्ट पार्टी आफॅ इंडिया (भाकपा)16,उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। इसके अलावा अमान्यता प्राप्त दलों के 817 एवं 830 निर्दलीय उम्मीदवार भी चुनाव मैदान में किस्मत आजमा रहे है। उन्होंने बताया कि इन प्रत्याशियों में 2087 पुरुष तथा 187 महिला प्रत्याशी है।

राजस्थान में कुल 13 हजार 382 संवेदनशील मतदान केन्द्र है जिनमें से 4982 मतदान केन्द्रों पर पर्यवेक्षक ,तीन हजार 948 मतदान केन्द्रों पर वीडियोग्राफर , 3138 मतदान केन्द्रों पर बेब कास्टिंग और 7 791 मतदान केन्द्रों पर केन्द्रीय सुरक्षा बल की तैनाती की गयी है। 
तेलंगाना में भी कल होने वाले मतदान की सभी तैयारियां हो चुकी हैं और वहां 2.8 करोड़ से भी अधिक मतदाता 1,824 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगें।
विधानसभा के सभी 119 क्षेत्रों में मतदान प्रातरू 07:00 बजे शुरू होगा और शाम 05:00 बजे समाप्त होगा जबकि नक्सल प्रभावित 13 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान शाम 4:00 बजे तक ही होगा। राज्य में 1.41 करोड़ से अधिक पुरुष मतदाता और 1.39 से अधिक महिला मतदाता है। मलकानगिरी विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 42 प्रत्याशी मैदान में है जबकि बांसवाड क्षेत्र में सबस कम छह प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। 

चुनाव आयोग सूत्रों ने बताया कि 32,815 मतदान केंद्रों पर 1.6 लाख से अधिक चुनाव कर्मियों को चुनाव सामग्री एवं मतदान मशीनों के साथ तैनात किया गया है। चुनावी प्रक्रिया की व्यवस्था में बनाए रखने के लिए अर्धसैनिक बलों के साथ 30,000 से अधिक जवानों को भी तैनात किया गया है। इसके अलावा 450 निगरानी दस्तों को भी तैनात किया गया है जो चुनाव के दौरान अनियमितताओं की जांच करेंगें। मतदान समाप्त होने तक शराब की बिक्री पर प्रतिबंध है और अगले 48 घंटों के दौरान चुनाव से संबंधित खबरों के प्रसारण पर प्रतिबंध लागू किया गया है।
दोनों राज्यों में मतगणना 11 दिसंबर को मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और मिजोरम के साथ होगी।




Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment