फरमान: एसपी-डीएसपी शाम में पहुंचेंगे थाना, छापा भी मारेंगे Decision: SP-DSP police station to come in the evening



पटना । एसएसपी और एसपी यदि दफ्तरों से कामकाज निपटाने की आदी हैं तो इसे बदल लें। पुलिस मुख्यालय ने अफसरों को फील्ड में निकलने का फरमान जारी कर दिया है। यह फरमान सिर्फ एसएसपी या एसपी पर ही लागू नहीं होगा, बल्कि डीएसपी भी इसकी जद में आएंगे। मुख्याल ने अफसरों को फील्ड में ड्यूटी का टास्क सौंप दिया है।

पुलिस मुख्यालय ने फील्ड में पदस्थापित एसएसपी, एसपी और उन डीएसपी के लिए आदेश जारी किए हैं। एसएसपी के अलावा एसपी शाम को थाने पर जाएंगे। ऐसा नहीं है कि वह थाना पहुंचेंगे और दिशा-निर्देश देकर वापस हो जाएंगे। इन अफसरों को थाने में समय देना होगा और कांडों की समीक्षा भी वहां करनी होगी। यह कार्रवाई दफ्तरों के कामकाज निपटाने के बाद शाम से शुरू होगी। यानी शाम में किसी वक्त आला पुलिस अधिकारी थाना जाएंगे और रात तक कामकाज निटाएंगे। 

फील्ड के सीनियर पुलिस अफसरों को थानों पर कांडों की समीक्षा और अन्य मामले देखने के साथ बड़े अभियान का नेतृत्व भी करना होगा। यानी पुलिस टीम के साथ वह छापेमारी में भी जाएंगे। छापेमारी का नेतृत्व एसएसपी, एसपी और डीएसपी स्तर के अधिकारियों को भी करनी होगी। 

हफ्ते में पांच दिन ऐसा करना होगा
पुलिस मुख्यालय का यह आदेश एसएसपी, एसपी, सिटी एसपी, ग्रामीण एसपी, रेल एसपी के अलावा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों और डीएसपी पर लागू होगा। आदेश के तहत हफ्ते में पांच दिन थाना जाना होगा और जरूरत के मुताबिक छापेमारी का नेतृत्व करना होगा। एडीजी मुख्यालय कुंदन कृष्णन को यह दायित्व सौंपा गया गया कि आदेश का पालन हो रहा है या नहीं, इसकी मॉनिटरिंग करें। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment