24 घंटे में 8 हत्याओं से दहला बिहार, बोले डीजीपी- अपराधी बच नहीं सकेंगे Bihar DGP, criminals can not escape from eight murders in 24 hours



पटना  बिहार में बीते 24 घंटे के भीतर आठ लोगों की हत्याओं ने एक बार फिर सूबे में कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा दिये हैं. वहीं, कई जगहों पर गोलीबारी के साथ-साथ अपहरण और लूट की वारदातें भी सामने आयी हैं. इसको लेकर सूबे में सियासी चर्चाएं तेज हो गयी है. इस हत्याओं में सबसे ज्यादा चर्चा राजद के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के भतीजे यूसुफ की हत्‍या को लेकर हो रही है. यूसुफ की हत्या के बाद सीवान में तनाव फैल गया है. नाराज लोगों ने हत्‍याकांड के विरोध में हंगामा किया. इसके मद्देनजर मौके पर भारी मात्रा में पुलिसबल की तैनाती की गयी है. वहीं मुजफ्फरपुर में गैंगवार में अपराधियों ने बस स्टैंड में एक व्यक्ति की हत्या कर दी. हालांकि, पुलिस मुठभेड़ में हमला करने आए तीन में से एक अपराधी मारा गया. इन घटनाओं पर प्रतिक्रिया देते हुए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि हत्या कर कोई अपराधी बच नहीं सकता. पुलिस गोली का जवाब गोली से देगी.
मालूम हो कि सीवान के नगर थाना क्षेत्र के दक्षिण टोला में देर रात राजद के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के भतीजे युसूफ की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. जानकारी के मुताबिक युसूफ को काफी करीब से गोली मारी गयी है. इसके बाद युसूफ को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. वहीं, दूसरी वारदात राजधानी के पटनासिटी इलाके की है. जहां पेट्रोल पम्पकर्मी को अपराधियों ने लूट के दौरान गोली मार दी. घटना में युवक की मौके पर ही मौत हो गयी. इस दौरान बाइक सवार तीन अपराधियों ने पंपकर्मी से लाखों रुपये भी लूट लिए. जबकि, तीसरी घटना बक्सर की है. यहां के मॉडल थाना के पॉश इलाके में वार्ड पार्षद को अपराधियों ने गोली मार दी. इस घटना में वार्ड पार्षद की  घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. 

उधर, चौथी घटना मुजफ्फरपुर की है. यहां भी बेखौफ अपराधियों ने ट्रांसपोर्टर की गोली मारकर हत्या कर दी. मामले पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए मुठभेड़ में एक अपराधी को मार गिराया है. बताया जाता है कि अपराधियों ने बैरिया बस स्टैंड में ट्रांसपोर्टर कुंदन सिंह की गोली मार दिया. घायल अवस्था में उन्हें एसकेएमसीएच में भर्ती कराया, लेकिन कुछ देर के बाद ही इलाज के दौरान कुंदन की मौत हो गयी. जबकि, एक अन्य मामला आरा जिले से जुड़ा है. जहां अज्ञात अपराधियों ने उदवंतनगर थाना क्षेत्र स्थित कसाप गांव के मुखिया पंकज सिंह को गोली मार दी. गम्भीर अवस्था में मुखिया को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं, गोपालगंज से हैरान कर देने वाली तस्वीर सामने आई है. यहां कुछ दोस्तों ने छात्र का अपहरण कर लिया. इसके बाद अपहृत छात्र के परिजनों से एक करोड़ की फिरोती मांगी गयी. परिजनों द्वारा पैसे नहीं देने पर अपराधियों ने छात्र की निर्मम हत्या कर दी. इन सबके साथ ही एक अन्य घटना कैमूर जिले की है. जहां मोहनिया थाना क्षेत्र में कचहरी के पास एक युवक को अपराधियों ने गोली मार दी है. गंभीर हालत में युवक को बनारस रेफर किया गया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

वहीं, सीतामढ़ी में एक बीएसएफ के रिटायर जवान की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. बताया जाता है कि बाइक पर सवार दो बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया. घटना को लेकर नाराज लोगों ने सीतामढ़ी-डुमरा मुख्य पथ को जाम कर हंगामा किया. उधर, गया में एक 50 वर्षीय बुजुर्ग की गोली मारकर हत्या कर शव को नदी में फेंक दिया गया. आक्रोशित लोगों ने भुसुंडा मोड़ के पास सड़क जाम कर दिया. वे आगजनी कर अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे.

बिहार में डीजीपी गुप्तेशवर पांडेय ने मुजफ्फरपुर की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि तीन गुंडे आते हैं और किसी आदमी पर हमला करते हैं. पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच जाती है और मुठभेड़ होती है. सैकड़ों लोगों के सामने मुठभेड़ होती है और अपराधी को मार गिराया जाता है. यह स्पष्ट संदेश है कि बिहार में सुशासन का राज्य है. अगर कोई सुशासन को चुनौती देने की कोशिश करेगा तो गुंडागर्दी को ध्वस्त किया जाएगा. हर जान की सुरक्षा की जिम्मेदारी बिहार पुलिस पर है. सीवान की घटना पर बिहार के डीजीपी गुप्‍तेश्‍वर पाण्‍डेय ने कहा है कि पुलिस अपराधियों तक पहुंचने का पूरा प्रयास कर रही है. जल्‍द ही हम उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया जायेगा. घटना टाउन थाना क्षेत्र के दखिन टोला इलाके की है. बढ़ते तनाव को देखते हुए घटनास्थल के आसपास बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गयी है.




Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment