भाजपा ने चुनाव से पहले लोगों की राय जानने के लिए शुरू की रथयात्रा BJP has started the rath yatra to know the opinions of people before the election



नयी दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने लोकसभा चुनाव से पहले लोगों का सुझाव लेने के लिए आज से रथयात्रा की शुरूआत कर दी, जो कम से कम दस करोड़ परिवारों तक जायेगी।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी की संकल्प पत्र समिति के अध्यक्ष एवं केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज यहां ‘भारत के मन की बात मोदी के साथ’ रथयात्रा समारोह का अनावरण किया। भाजपा 300 रथों के माध्यम से पूरे देश में जनसंपर्क कर लोगों की राय जानने का प्रयास करेगी। यह रथयात्रा एक माह तक चलेगी, जिसके माध्यम से मुख्य रूप से 12 श्रेणी में लोगों के सुझाव माने जायेंगे। ये सुझाव लिखित, टेलीफोन, फेसबुक और संचार के कुछ अन्य माध्यमों से दिये जा सकते हैं।

श्री शाह ने संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी देते हुये बताया कि उनकी पार्टी के लिए चुनाव सिर्फ सत्ता प्राप्त करने का साधन नहीं है। भाजपा लोकतंत्र के इस महोत्सव से पहले हर व्यक्ति के पास जाना चाहती है और जनमत बनाकर जनादेश प्राप्त करना चाहती है जिससे लोकतंत्र मजबूत हो सके।

उन्होंने आरोप लगाया कि वर्ष 2014 से पहले की सरकारों की तुष्टिकरण की नीतियों के कारण लोकतंत्र विफल हो गया था और समस्याओं का निवारण नहीं किया जा रहा था। लोकलुभावन नारे लगाये जा रहे थे और ऐसी ही योजनायें तैयार की जा रही थीं तथा वित्तीय अनुशासन की धज्जियां उड़ायी जा रही थीं। मोदी सरकार के आने के बाद पारदर्शी और दूरदर्शी नीतियों को लागू किया गया और लंबी अवधि के लिए विकास की नींव डाली गयी जिससे संसदीय प्रणाली में लोगों का भरोसा लौटा और दुनिया में भारत को सम्मान की दृष्टि से देखा जाने लगा।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment