धरना पर बैठीं ममता ,मोदी और शाह पर बरसीं Mamta, Modi and Shah on the dharna



कोलकाता । पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी करोड़ाें रुपये के शारदा चिट फंड घोटाले में कोलकाता पुलिस आयुक्त के निवास पर केन्द्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) के छापे के विरोध में रविवार शाम धरना पर बैठ गयीं।

सुश्री बनर्जी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर पश्चिम बंगाल सरकार को उत्पीड़ित करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यह सब श्री मोदी ,श्री शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के इशारे पर हो रहा है। उन्होंने कहा ,“ मोदी और अमित शाह बंगाल का तख्तापलट करने की योजन बना रहे हैं। वे 19 जनवरी को काेलकाता में हुयी महारैली के बाद दबाव बना रहे हैं। पुलिस आयुक्त के आवास को सीबीअाई ने घेरा जो यह दर्शाता है कि देश की स्थिति आपातकाल से भी खराब है।”

उन्होंने कहा,“ मेरे पुलिस बल पर हमला संघीय ढांचे पर हमला है। आप नोटिस दिये बगैर कोलकाता पुलिस आयुक्त के आवास पर कैसे पहुंच सकते हैं? हम सीबीआई के अधिकारियों को गिरफ्तार कर सकते थे लेकिन हमने ऐसा नहीं किया।”

उन्होंने कहा,“ मोदी आप डरें ,दलदल में नहीं फंसें। पीएम मोदी देश की लोकतांत्रिक संस्थाओं काे खत्म कर रहे हैं। बिना वारंट के सीबीआई के अधिकारी कोलकाता पुलिस आयुक्त के आवास पर कैसे आ सकते हैं? मुझे अपने पुलिस बल पर नाज है और कोलकाता के पुलिस आयुक्त सबसे श्रेष्ठ हैं। मोदी सरकार में संवैधानिक तंत्र विफल हुआ है। इस घोटाले के पांच साल बाद सीबीआई हरकत में आयी है। यह सब लोक सभा चुनाव के मद्देनजर किया जा रहा है।”उन्होंने कहा,“ मैं अपने पुलिस बल का साथ दूंगी। मैं उनका सम्मान करती हूं। आज मुझे बहुत दुख हुआ। यह संघीय ढांचे पर हमला है। ”



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment