कहासुनी के बाद हुई हत्या के मामले में एक आरोपी गिरफ्तार One accused arrested in connection with murder case



                                                                   मृतक की फाइल फोटो। 
साहिबाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  साहिबाबाद थाना क्षेत्र की विक्रम एंक्लेव कॉलोनी में सोमवार की शाम कहासुनी के बाद हुए एक झगड़े में चले चाकू के बार से घायल पप्पू कालोनी के एक युवक की अस्पताल में ले जाने के दौरान रास्ते में मौत हो गयी। हत्या के इस मामले में आज पुलिस ने एक हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस खूनी हमले में मृतक के दो दोस्त भी घायल हुए हैं जिन्हें उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी देदी गयी है। इस मामले में मृतक के भाई ने पांच लोगों को नामजद व आधा दर्जन अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस सभी फरार आरोपियों की तलाश में जुट गयी है, वहीं मृतक के घर में मातम छाया है।
          
गौरतलब है कि सोमवार की शाम पप्पू कॉलोनी की गली नंबर 3 में रहने वाला 24 वर्षीय साजिद अपने दोस्तों राजा और राहुल के साथ विक्रम एंक्लेव मे शुक्र बाजार स्थित प्रयास पार्क की तरफ से लौट रहा था तभी वहां मौजूद कुछ युवकों से उसकी मामूली कहासुनी हो गई थी। लोगों ने बीच-बचाव करा कर मामले को शांत करा दिया था परंतु थोड़ी ही देर बाद वे युवक अपने कुछ साथियों के साथ चाकू, हथौड़ी व सरियों से लैस होकर आ गए और अचानक साजिद पर चाकू से हमला बोल दिया। चाकू साजिद की छाती में लगा और वह जमीन पर गिर कर तड़पने लगा। इसी बीच राजा और राहुल ने उसे बचाने और हमलावरों को पकड़ने की कोशिश की तो हमलावरों ने उन दोनों को भी हथौड़ी मार-मार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी हमलावर फरार हो गए वहीं स्थानीय लोगों ने तीनों घायलों को उपचार के लिए जीटीबी अस्पताल पहुंचाया परंतु साजिद ने बीच रास्ते में ही दम तोड़ दिया।
         
मृतक साजिद के भाई की तहरीर पर साहिबाबाद पुलिस ने विक्रम एनक्लेव में रहने वाले सादाब, नवाब, अंसार, अबुल हसन, महबूब व करीब आधा दर्जन अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश में दबिश दी। सीओ बॉर्डर राकेश कुमार मिश्रा के मुताबिक सभी नामजद आरोपी मूल रूप से बिहार के रहने वाले हैं। इनमें से पुलिस ने अबुल हसन को हिरासत में ले लिया है वही बाकी फरार आरोपियों की तलाश जारी है जल्दी सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
     
साजिद की हत्या के बाद परिवार में मातम छाया हुआ है। परिवार वालों के मुताबिक साजिद इंदिरापुरम इलाके में एक सैलून पर काम करता था तथा अपने काम करीब 4 महीने बाद कल ही घर लौटा था। इसके अलावा मृतक बॉडी बिल्डर भी था। परिजनों ने सभी हत्यारोपियों को शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है।




Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment