आतंकवाद के मामले में असहाय नहीं रहा भारत: मोदी India is not helpless in terrorism: Modi



कन्याकुमारी ।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के हमले में 40 सैनिकों के शहीद होने के बाद एक बार फिर दुनिया ने भारत की सेना की ताकत देखी। 

श्री मोदी ने विभिन्न सड़क, रेलवे और अन्य विकास परियोजनाओं के उद्घाटन के बाद कहा कि भारत कई वर्षों से आतंकवाद का दंश झेल रहा है और 2004 से 2014 के बीच देश में कई आतंकवादी हमले किये गये। देश में हैदराबाद, अहमदाबाद, जयपुर, बेंगलुरु, मुंबई, पुणे और अन्य स्थानों पर कई बम विस्फोट और आतंकवादी हमले हुए। 

उन्होंने कहा, “देश की जनता को उम्मीद थी कि दोषियों को सजा दी जाएगी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गयी। अब बहुत अंतर आ गया है। भारत अब आतंकवाद के मामले में असहाय नहीं रहा।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “जब देश में 26/11 हुआ, जनता को आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई की उम्मीद थी लेकिन तब कुछ नहीं हुआ। जब उरी में हमला हुआ तो आपने देखा कि हमारे वीर सैनिक क्या कर सकते हैं। एक समय था जब न्यूज रिपोर्ट खबरों में आता था कि वायुसेना 26/11 के बाद सर्जिकल स्ट्राइक करना चाहती थी, लेकिन तत्कालीन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार ने उसे रोक दिया। जब पुलवामा हुआ तो आपने देखा कि हमारी वायुसेना के जवानों ने क्या किया। आज हम ऐसे युग में हैं जब खबरों में आता है कि सेना के पास कोई भी कदम उठाने की पूरी आजादी है।” उन्होंने कहा कि इससे हमारा देश एकजुट हुआ है। देश की जनता ने जिस तरह सैन्यबलों का समर्थन किया है, वह विशेष है और इसके लिए वह हर नागरिक के आभारी हैं। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment