सुखोई ने बीकानेर बॉर्डर पर पाकिस्तान के मानव रहित विमान (यूएवी) को मार गिराया Sukhoi killed Pakistan's unmanned aircraft (UAV) on Bikaner border




  • यूएवी का मलबा पाकिस्तान में गिरा, जासूसी के लिए भेजा गया था
  • 26 फरवरी को भी पाक के यूएवी को कच्छ में गिराया गया था


जयपुर । पाकिस्तान ने सोमवार को फिर से भारतीय वायु क्षेत्र में घुसपैठ की कोशिश की। पाक सेना का एक मानव रहित विमान (यूएवी) बीकानेर सीमा पर उड़ान भर रहा था, जिसे वायुसेना के सुखोई लड़ाकू विमान ने मिसाइल छोड़कर मार गिराया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यूएवी का मलबा पाकिस्तान के फोर्ट अब्बास इलाके में गिरा, जो बहावलपुर के पास स्थित है। हालांकि, अभी एयरफोर्स की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई है।

सैन्य सूत्रों के मुताबिक, अनूपगढ़ सेक्टर में सुबह 11.30 बजे एयर डिफेंस रडार पर एक संदिग्ध यूएवी की जानकारी मिली। इसके बाद सूरतगढ़ एयरबेस से सुखोई लड़ाकू विमानों ने उड़ान भरी। भारतीय सीमा के अंदर से यूएवी पर मिसाइल दागी गई। इस कार्रवाई के बाद मानव रहित विमान पाक सीमा में गिरकर ध्वस्त हो गया।

कच्छ में भी गिराया गया था यूएवी

सूत्रों के मुताबिक, 26 फरवरी को बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान राजस्थान सीमा पर लगातार यूएवी भेजकर जासूसी कर रहा है। पाक का एक यूएवी गुजरात के कच्छ में मार गिराया गया था। इसके अगले दिन बाड़मेर में भी एक यूएवी नजर आया था।
यूएवी कई घंटों तक उड़ान भर सकता है। खास तौर पर इसका इस्तेमाल जासूसी के लिए किया जाता है। हालांकि, उन्नत तकनीक से लैस कुछ यूएवी दुश्मन पर हमला भी कर सकते हैं, लेकिन पाकिस्तान के पास हमलावर यूएवी नहीं हैं।

पाक के विमानों ने 27 फरवरी को घुसपैठ की थी

एयर स्टाइक के अगले दिन पाकिस्तान के तीन लड़ाकू विमानों ने कश्मीर के पुंछ और राजौरी सेक्टर में घुसपैठ कर भारतीय सेना के ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की थी। इसके बाद भारत के मिग-21 विमानों ने इन्हें खदेड़ा। विंग कमांडर अभिनंदन ने एफ-16 विमान को मार गिराया था। इस कोशिश में उनका मिग विमान भी पीओके में क्रैश हो गया था।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment