शोपियां में तीन आतंकवादी ढेर, कुलगाम में अभियान समाप्त Three terrorists stack in Shopian, campaign ends in Kulgam



श्रीनगर ।  जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में गुरुवार तड़के सुरक्षा बलों के घेराबंदी और तलाश अभियान के दौरान हुई मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गये, इस बीच दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में शाम को तलाश अभियान पूरा हो गया। सुरक्षा बलों और राज्य पुलिस की ओर से चलाये गये अभियान के दौरान बुधवार की शाम स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया था जिसके बाद सुरक्षा बलों को उग्र भीड़ को तितर-बितर करने के लिए गोलियां चलानी पड़ी तथा पैलेट गन का इस्तेमाल करना पड़ा। इस दौरान कई लोग घायल हो गये जिनमें दो लोग गोली लगने से घायल हुए। 

दक्षिण कश्मीर में अफवाहों को रोकने के लिए सभी इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई है। आतंकवादियों के मारे जाने की खबर फैलते ही इस क्षेत्र के कई इलाकों में जनजीवन प्रभावित रहा और दुकानें बंद रहीं। 
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि केल्लर जंगल के यारवान में आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया सूचना मिलने के बाद राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों ने गुरुवार तड़के संयुक्त घेराबंदी एवं तलाश अभियान चलाया। 

सुरक्षा बलों के जवान जब जंगल में एक विशेष क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे तो वहां छिपे आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी, सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई। इस मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गये हैं और सभी आतंकवादियों के शवों को जंगल से बरामद कर लिया गया है। 

सूत्रों ने बताया कि मारे गये आतंकवादियों की पहचान आकिब अहमद, बशारत अहमद और सजाद खानडे के रूप में हुयी है। से सभी दक्षिण कश्मीर के रहने वाले थे। उन्होंने कहा कि कुलगाम के यारीपोरा में सुबह सुरक्षा बलाें ने अभियान शुरू किया। 

पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक मारे गये आतंकवादी हिजबुल मुजाहिद्दीन और लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हुए थे। ये सभी सुरक्षा प्रतिष्ठानों और रिहायशी इलाकों में हुई विभिन्न आतंकवादी घटनाओं में भी वांछित थे। सजाद और बशारत तो कई आतंकवादी हमलों में शामिल थे। 
प्रवक्ता के मुताबिक मुठभेड़ स्थल से तीन एके राइफल तथा गोला बारूद बरामद किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

इस बीच कुलगाम में तड़के अभियान फिर शुरू किया गया। बुधवार की शाम सुरक्षाबलों और पुलिस से प्रदर्शनकारियों की झड़प के दौरान कई लोग घायल हो गये थे। इनमें दो लोग गोली लगने से घायल हुए थे। किसी भी तरह की अफवाहों को फैलने से रोकने के मद्देनजर क्षेत्र में मोबाइल इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गयी है।

उन्होंने कहा कि कुलगाम के यारीपोरा में सुबह सुरक्षा बलाें ने अभियान शुरू किया। कल शाम कुलगाम में फ्रिसल के कुजर और टांगीबाल इलाकों में अभियान को बाधित करने की कोशिश कर रहे प्रदर्शनकारियों की सुरक्षाबलों के झड़प में दो लोगों को गोली लगने से घायल हो गये, इसी कार्रवाई के दौरान कई अन्य लोग भी घायल हुये।

कुलगाम जिले के रज़ालो काजीगुंड गाँव में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने गुरुवार की सुबह घेराबंदी एवं तलाश अभियान शुरू किया। दोपहर के बाद यह अभियान समाप्त कर दिया गया। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment