नमो टेलीविजन पर आयोग ने मांगा मंत्रालय से जवाब Commission on Namo Television Response from Ministry



नयी दिल्ली । चुनाव आयोग ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद ‘नमो’ टेलीविजन की शुरुआत किए जाने पर रिपोर्ट मांगी है।

सूत्रों ने बताया कि आयोग ने मंत्रालय को एक पत्र भेजकर उससे इस संंबंध में जानकारी देने को कहा है।
गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी(आप) और कांग्रेस ने दो दिन पहले आयोग से नमो टेलीविजन के संबंध में शिकायत की थी।

सूत्रों के अनुसार आयोग ने दूरदर्शन को भी पत्र लिखा है जिसमें 31 मार्च को तालकटोरा स्टेडियम में भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई की तरफ से आयोजित “ मैं भी चौकीदार” कार्यक्रम का एक घंटे तक सीधा प्रसारण करने पर जवाब मांगा है । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कार्यक्रम को संबोधित किया था।
आप की तरफ से सोमवार को चुनाव आयोग को एक पत्र लिखा गया था। पत्र में पार्टी ने यह जानना चाहा था कि क्या हाल ही में शुरु किए गए 24 घंटे चलने वाले नमो टेलीविजन चैनल को शुरु करने की मंजूरी ली गई थी। आप ने शिकायत में कहा था कि यह चैनल आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद शुरु किया गया । पार्टी ने कहा कि नमो टेलीविजन शुरु किए जाने से सभी राजनीतिक दलों के लिए “ समान” अवसर सिद्धांत का हनन होता है।

सत्रहवीं लोकसभा के लिए आम चुनाव की 10 मार्च को घोषणा की गई थी और इसके साथ ही आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गई थी। आम चुनाव सात चरणों में 11 अप्रैल से शुरु होकर 19 मई तक होंगे। चुनाव परिणाम का ऐलान 23 मई को होगा।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment