भाजपा की लूट का मुंहतोड़ जवाब दो: जयंत चैधरी Reply to the BJP's loot: Jayant Chaudhary



गठबंधन प्रत्याशी सुरेश बंसल के लिये मांगे वोट
गाजियाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  छोटे चैधरी यानी रालोद के उपाध्यक्ष जयंत चैधरी ने कहा है कि पांच साल देश को लूटकर चंद पूंजीपतियों की तिजोरी भरने वाली भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने का वक्त आ गया है। नोटबंदी और जीएसटी का हंटर चलाने वाली और किसानों को गन्ना भुगतान व फसल का वाजिब दाम देने के बजाय लीठी, गोली और पानी की बौझार देने वाली सरकार को सत्ता से हटाने का मौका है। उन्होंने मुजफ्फरनगर जाने से पहले दुहाई और मुरादनगर में जनता को सम्बोधित करते हुए सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के साझा उम्मीदवार सुरेश बंसल के लिये वोट मांगे और कहा कि यह चुनाव आरपार की लड़ाई है और जंग जीतने के लिये मिलकर अपने प्रत्याशी को विजयी बनाओ।

जयंत चैधरी ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों के साथ दम भरकर अत्याचार किये हैं। सीमाओं पर किसानों के बच्चे शहीद हो रहे हैं, जबकि खेत में किसान आत्महत्या करने का मजबूर किया गया। मोदी सरकार किसानों के सैनिक बेटों की शहादत को कैश करने का पाप कर रही है जबकि खेतिहर किसानों का उनकी फसल की वाजिब कीमत देने के बजाय छह हजार रुपए सालाना देकर उनका मजाक उड़ाया जा रहा है। पांच साल में सरकार ने रोजगार देने के बजाय रोजगार छीनने का काम किया। गरीबों की जेब पर डाका डालकर कुछ पूंजीपतियों की तिजोरियां भरी हैं। दो महीने पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गन्ना किसानों को एक महीने के भीतर पूरा भुगतान कराने का दम भरा था, जो आज तक पूरा नहीं हुआ। चहेते पूंजीपतियों के लिये किसानों की जमीनें छीन ली र्गइं और उन्हें मुआवजे के लिये खून के आंसू रुलाए जा रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि ऐसा होना चाहिए जो अनुभवी, ईमानदार और 24 घंटे क्षेत्र की जनता के बीच बैठने वाला हो। गाजियाबाद की जनता भाग्यशाली है कि गठबंधन ने उन्हें सुरेश बंसल जैसा भला और सक्रिय रहने वाला प्रत्याशी दिया है। जयंत चैधरी ने कहा कि यहां कि निवर्तमान सांसद ने पांच साल तक जनता से मिलाने के लिये जेब से हाथ नहीं निकाला। शहर को कूड़ाघर में तब्दील कर दिया गया है और आज तक डम्पिंग ग्राउंड दिलाने के लिये सांसद ने मशक्कत नहीं की। 

सभा को प्रत्याशी सुरेश बंसल ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि वे हमेशा क्षेत्रवासियों के बीच रहने का संकल्प लेकर चुनाव मैदान में हैं। अपने विधायक कार्यकाल के काम का हवाला देते हुए श्री बंसल ने कहा कि उनके काम को देख मीडिया ने उन्हें जनप्रतिनिधि का स्कूल करार दिया है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सांसद बनकर वे भाजपा को आईना दिखाएंगे और बताएंगे कि जनप्रतिनिधि की जनता के प्रति क्या जिम्मेदारी होती है। उन्होंने जनता से अपील की कि 11 अप्रैल को मतदान अवश्य करें और साइकिल के निशान पर बटन दबाकर काम करने वाले सांसद को चुनें। सभा में रालोद के महानगर अध्यक्ष रविन्द्र चैहान, जिलाध्यक्ष कपिल चैधरी, पार्टी के वरिष्ठ नेता तेजपाल सिंह, मनवीर चैधरी, अजयवीर सिंह, इन्द्रजीत सिंह टीटू, अमरजीत सिंह बिड्डी, ओमपाल चैधरी, अजय प्रमुख, पूनम कोरी, नरेन्द्र चैधरी, संगीता चैधरी, डॉ. गीता शर्मा, जगदीश पटवारी, बॉबी चैधरी, तेजवीर मलिक, वीरपाल मलिक, कष्णसिंह राघव, संजीव चैधरी, नीरज चैधरी, पुरुषोत्तम शर्मा, सपा जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार मुन्नी, पार्टी के महानगर अध्यक्ष राहुल चैधरी, अभिषेक गर्ग, धर्मवीर डबास, अलाउद्दीन अब्बासी, सुनील शर्मा, मधू चैधरी, राजदेवी चैधरी, रितु खन्ना, साजिद हुसैन, राशिद मलिक, आशु मलिक, बसपा के पूर्व को-आॅर्डिनेटर सत्यपाल चैधरी, कविन्द्र सिंह, बसपा जिलाध्यक्ष विनोद प्रधान, देशपाल चैधरी, रामप्रसाद प्रधान, सेंसरपाल चैधरी, ओमवीर सिंह, गजेन्द्र जाटव, नरेन्द्र मोहित समेत तमाम नेताओं ने जयंत चैधरी की आगवानी की।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment