जिलाधिकारी ने की बैंक शाखा प्रबन्धक की बैठकं District Magistrate's meetings of the bank branch



गाजियाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो ) कलेक्टेªट सभागार में जिलाधिकारी रितु माहेष्वरी द्वारा किसानों के हित में चलायी जा रही जन कल्याणकारी योजनाओ के क्रियान्वयन को लेकर सभी शाखा प्रबन्धको को महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये । 

जिलाधिकारी ने कहा कि भारत सरकार के सचिव द्वारा वी0सी0 में अवगत कराया गया है कि किसानों के खातों की विसंगति को लेकर सभी बैकर्स 5 प्रतिशत से ज्यादा आवेदन वापस न करें। लक्ष्य के सापेक्ष किसानो की कल्याणकारी महत्वपूर्ण योजनाओं में ज्यादा से ज्यादा के्रडिड कार्ड जारी करें। 

बैठक में जिला कृषि अधिकारी ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि किसानों के लिए के्रडिट कार्ड बनाने हेतु एक माह तक अभियान चलाया जायेगा। अग्रणी बैंक प्रबन्धक ने भी बैठक में अवगत कराया कि बैंक की प्रत्येक शाखा पर के0सी0सी0 हेतु कैम्प आयोजित किये जायेगें। हर कैम्प में किसानों हेतु बैंक के फार्म उपलब्ध होगें। इस बार किसानों के साथ-साथ पशुपालकों व मत्स्य पालको के भी के0सी0सी0 बनाये जाने की योजना है। इस पर जिलाधिकारी ने सभी बैंक शाखा प्रबन्धको को कडे निर्देश देते हुये कहा कि के0सी0सी0 बनाने हेतु किसानों को अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाये। सभी बैंक शाखायें जल्द से जल्द अपनी-अपनी शाखा पर कैम्प आयोजित करें। उन्होने कहा कि  यह शासन की बडी प्राथमिकता वाला कार्यक्रम है।  मंत्री जी व प्रमुख सचिव वी0सी0 के द्वारा इस योजना की मोनेटरिगं करेगें । इस कार्य में बैंक स्टाफ तहसील का स्टाफ व कृषि विभाग का स्टाफ सहयोग करेगा ।
बैठक में जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि 02 हैक्टेयर से ऊपर की भूमि के किसानों को भी के0सी0सी0 में आच्छादित करें। अब तक 49000.00 किसान के0सी0सी0 में आच्छादित किये गये है। सभी उप जिलाधिकारी इस कार्य में  सहयोग करेगें। इस योजना में छूटे हुये किसानों को आच्छादित करें। विकास खण्ड का स्टाफ भी इस कार्य में सहयोग करेगा। डेटा करेक्शन की स्थिति सही हो। जिलाधिकारी ने कठोरता अपनाते हुये कहा कि के0सी0सी0 बनाने में धन की किसी के भी द्वारा मांग की गयी या एसी कोई शिकायत पायी गयी तो सम्बन्धित के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही की जायेगी। 
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, सभी उप जिलाधिकारी, एल0डी0एम0, जिला विकास अधिकारी, जिला कृषि अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी सहित बैंकों के शाखा प्रबन्धक व प्रतिनिधि उपस्थित रहे। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment