पत्रकारो पर लिखवाया गया फर्जी मुकदमा लिया जाए वापस: हरीराम अरोरा Fraud lawsuit filed on journalists should be taken back: Hari Ram Arora




श्रमजीवी पत्रकार यूनियन ने भू-माफिया के विरूद्ध कार्यवाही की उठाई मांग

सीतापुर, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन ‘‘यूपीडब्लूजे’’ द्वारा केशवग्रीन सिटी में कवरेज के दौरान कॉलोनी के मालिक भू-माफिया मुकेश अग्रवाल द्वारा पत्रकारों से अभद्र व्यवहार किये जाने एवं फर्जी मुकदमा किये जाने के विरोध में जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें पत्रकारों ने भू-माफिया के विरूद्ध कठोर कानूनी कार्यवाही किये जाने की मांग की है। 

दिये गये ज्ञापन में यूनियन के अध्यक्ष हरिराम अरोरा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष पंकज सक्सेना, सुधांशु पुरी, महामंत्री उरूज कदीर, कोषाध्यक्ष आनंद तिवारी ने संयुक्त रूप से कहा कि सरायन नदी  के किनारे अवैध रूप से विकसित हो रही केशव ग्रीन सिटी कॉलोनी की कवरेज करने के उद्देश्य से गये हुए पत्रकारों के साथ कॉलोनी के मालिक ने अभद्र व्यवहार किया, बंधक बनाया, गालियां दी और लड़कियों से छेड़खानी का झूठा मुकदमा  दर्ज करवाने की धमकी दी, जिसका वीडियों भी मौजूद है, जिसकी एफआईआर भी थाना रामकोट में लिखवायी गयी है, लेकिन अभी तक न कॉलोनी के मालिक की गिरफतारी हुई है और न ही शासन के नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए बन रही अवैध कॉलोनी की जॉच। 

पत्रकारों ने कहा कि भू-माफिया मुकेश अग्रवाल द्वारा धन, बल के सहारे मान्यता प्राप्त पत्रकारों समेत कुल तीन पत्रकारों पर बगैर किसी प्रमाण के मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। जिससे पत्रकारों के साथ हुई इस अभद्र घटना से जिले के पत्रकारों में भारी आक्रोश व्याप्त है, जिसकी श्रमजीवी कड़े शब्दों मे निन्दा करता है। पत्रकारों ने कहा कि विकसित हो रही अवैध कॉलोनी की अखबारो व न्यूज चैनलों में बराबर चर्चा होती रहती है, लगातार प्रशासन द्वारा जब-जब इस कॉलोनी पर कोई कार्यवाही होती है, तब इसके मालिक पत्रकारों के खिलाफ झूठे मुकदमों में फंसाने का निरन्तर प्रयास भी किया करता है। इस बार भी इस कॉलोनी का कवरेज करने गये पत्रकारों के खिलाफ झूठा मुकदमा लिखा दिया गया है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि पत्रकारों के खिलाफ इस झूठे मुकदमें की निष्पक्ष जॉच कराकर झूठे मुकदमे को वापस लिए जाने के साथ ही अवैध कॉलोनी की विस्तृत जॉच की जाए। इस मौके पर काफी संख्या में पत्रकार मौजूद रहे।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment